दिवाली फोटो (image source: bhaskar.com)

बॉलीवुड स्टार्स भी दीवाली जोर-शोर से मनाते हैं और इस मौके पर कुछ न कुछ नया करने की कोशिश करते हैं। कई बार दिवाली पर ऐसा कुछ स्पेशल हो जाता है जो हमेशा के लिए यादगार रह जाता है।

माधुरी ने बताया था, “जब मैं छोटी थी तो हमारे घर में 10 दिन पहले से ही सफाई पुताई और सजावट की तैयारी शुरू हो जाती थी। मेरी बहन रंगोली अच्छी बनाती थी तो ये जिम्मेदारी उसकी होती थी। मेरा काम होता था पटाखे जलाना। एक बार पटाखे चलाते वक्त मैंने अपने बाल जला लिए थे। दरअसल मैं जहां पटाखे चला रही थी वहीं एक लड़के ने सुतली बम जला दिया था और इसकी लपटों में मेरे बाल जल गए थे। दर्द और डर के मारे मेरी चीख निकल गई थी और उस दिवाली पर मैं खूब रोई थी। वो दिवाली मुझे आज भी याद है।”

सलमान ने जला दिए थे असली नोट

(image source: bhaskar.com)

सलमान खान ने बताया था कि एक बार दिवाली पर उन्होंने असली नोट जला दिए थे। बकौल सलमान, “उस समय पापा की कमाई महज ढाई सौ रुपए थी और उसमें से भी कुछ नोट मैंने जला दिए थे। मुझे नहीं पता मैंने ऐसा क्यों किया था, लेकिन ऐसा करने के बाद भी पापा ने मुझे डांटा नहीं। सिर्फ एक सवाल पूछा कि पूरे महिना खर्च कैसे चलेगा। इसी तरह एक दिवाली पर मैंने हाथ जला लिया था। मैं हर दिवाली पर ऐसी ही कुछ उलजुलूल हरकत करता हूं, जो मुझे ही नहीं मेरे पूरे घर को याद रहती है।”

पड़ोसी के घर में घुस गया था वरुण का रॉकेट

(image source: bhaskar.com)

वरुण धवन ने हमें बताया था, “मेरी यादगार दिवाली कुछ खास अच्छी नहीं थी। क्योंकि मुझे मम्मी से डांट पड़ी थी। मैं अपने दोस्तों के साथ रॉकेट चला रहा था। एक रॉकेट उपर जाने की बजाय पड़ोसी के घर में घुस गया। उस रॉकेट से उनके घर के खूबसूरत पर्दे जल गए और थोड़ा फर्नीचर भी। ये देखकर उस घर की मालकिन मेरे घर पर आ गई और मेरी शिकायत मम्मी से कर दी। इसके बाद मम्मी ने मुझे डांट लगाई, जो आज भी याद है। इस दिवाली के बाद मैंने रॉकेट चलाने से तौबा कर ली।”

कॉमेडी शो की रकम ने जॉनी लीवर कि दिवाली को बनाया था यादगार

जॉनी लीवर कहते हैं, “दिवाली उनकी ही अच्छी मनती है जिनका दिवाला न निकला हो। जब जेब भरी हो तो हर त्यौहार अच्छा लगता है और खाली हो तो त्यौहार भी अच्छे नहीं लगते। ऐसा ही कुछ एक दिवाली पर मेरे साथ हुआ था। मैं एक गरीब परिवार से हूं और उस समय हमारे पास दिवाली मनाने के पैसे नहीं थे। उन दिनों मैंने स्टेंडअप कॉमेडी का नया प्रोग्राम शुरू किया था। मुझे उम्मीद थी कि शो करने से दिवाली अच्छी मनेगी। मैंने एक जगह शो किया और मुझे उसके पैसे उसी दिन मिल गए। मैं शो खत्म होते ही मार्केट गया और घर वालों के लिए मिठाई और पटाखे खरीदे। जब मैंने मां के हाथ में पैसे दिए, वो बहुत खुश हो गई। पूरे परिवार ने दिवाली मनाई। उस दिन उनके चेहरे पर जो खुशी देखी, वो आजतक नहीं देखी। वो मेरी बेहतरीन दिवाली थी।”